Richa Chaturvedi

I am Richa Chaturvedi , a chartered accountant by profession and a writer by passion . My stories and poems are based from real life incidents . I have keen interest in hindi writing .


I also write blog on facebook  named ' over to you जिंदगी ' and recently started putting you tube videos which will be found by surfing richa chaturvedi . I am also on 107.8 FM ( gurgaon ki awaaz ) and my poems/ stories are being published in various magzine and papers .


जिंदगी ने बहुत कुछ दिखाया बहुत कुछ सिखाया और ये सिलसिला जारी है कभी कभी ऐसे पल आये की लगा जिंदगी को साइड में ले कर पूछ लूँ मैं ही क्यों :) कभी  इसे कस के गले लगाने का दिल किया | और इसे लिख देने का मन तो हमेशा ही रहा   ,मेरी तरह ही रही है मेरी कविताएं और कहानियां कभी माथे का पसीना तो कभी मुस्कुराने का बहाना | आपको भी मिली होगी मेट्रो की भीड़ में अपनी जगह बनती हुई | या रिश्तो की रस्साकशी में खुद को खोजती हुई |

Read Article

कविता/व्यंग: सुना है चुनाव काफी पास है

गरीब बस्तियों में तंग गलियों में पाए जाने लगे नवाब हैं, सुना है चुनाव काफी पास है। ख्याल आ गया मजदूरों का किसानों का, टपकती खपरैलों का, चटकती दीवारों का नई स्कीमों की शुरू हो गयी बरसात है, सुना है चुनाव काफी पास है।

Read Article

घर बदलने, आशियाना बसाने में गुजरती जिंदगी, क्या संदेश है जानते हो?

रिचा चतुर्वेदी सोसायटी में खड़ा बांधा हुआ ट्रक देख रही हूँ। बचपन से ही काफी घर, काफी शहर ट्रांसफर्स के चलते बदले हैं। सामान बंधता है तो हर कमरा कुछ पुठ्ठे के बाक्सेस में सिमटने लगता है। जो बांधा नहीं …

Close